कृष्ण जन्म पर झूम उठे भक्तगण, भक्तिमय हुई लखवाल की धरती #kangralive

कृष्ण जन्म पर झूम उठे भक्तगण, भक्तिमय हुई लखवाल की धरती #kangralive
देहरा, भडोली के लखवाल में चल रही श्रीमद् भागवत कथा में कृष्ण जन्म हुआ। द्वापर में भगवान के जन्म पर सभी ने एक दूसरे को बधाई दी और भक्तगण यहां झूमकर नाचे। मंगलवार को भगवान श्री कृष्ण का विवाह होगा। कथा वाचक श्री वी.एल. भारद्वाज  ने कृष्ण कथा सुनाते हुए बताया कि वासुदेव देवकी ने कारागृह में रहकर भगवान को प्राप्त किया और कारागृह को कृष्ण मंदिर के रूप में परिवर्तित कर दिया। उन्होने कहा कि इंसान कर्म से बड़ा होता है।
कर्म को करते हुए यदि मानव ईश्वर को न भूले तो परमात्मा को पा सकता है। उन्होने कहा कि वसुदेव ने भगवान को बांस की टोकरी में ज्यों ही अपने सर पर रखा उनके हाथ की हथकडि़यां खुल गई, पैर की बेडि़यां टूट गई। जीव जब ब्रह्म से संबंध करता है तो दुनिया के सारे बंधन टूट जाते हैं। उन्होंने ब्रह्म और माया के साथ संबंधों को बताते हुए कहा कि ब्रह्मभक्ति से कई लोग स्वर्गारोहरण कर गए।
इधर जब यशोदा मैया ने माया रूपी कन्या को जन्म दिया तो उन्हें नींद लगी थी और पता ही नहीं चला। सो माया से संबंध बनता है तो जीव अचेत हो जाता है। कृष्ण जन्म पर यहां झांकी सजाई गई थी। उत्सव में यहां सुनने आए भक्तों ने खूब नृत्य किया। शुक्रवार को भगवान की बाल लीलाओं कावर्णन किया जाएगा।
श्रीमद् भागवत कथा में जब भगवान कृष्ण का जन्म हुआ तो समूचा पांडाल झूम उठा और मंच पर पुष्प वर्षा की गई। महिलाओं ने बधाई गई तो श्रद्धालु थिरक उठे। पुर्व बीडीसी सद्स्य अनिता देवी के घर चल रही श्रीमद् भागवत कथा के चौथे दिन श्रीकृष्ण जन्म की कथा का वर्णन किया। कृष्ण जन्म होते ही हाथी घोड़ा पालकी जय कन्हैयालाल की के स्वर चारों ओर गुंजायमान होने लगे। पांडाल में उत्सव का माहौल नजर आ रहा था। आचार्य ने कहा कि जब भगवान ने कृष्ण के रूप में धरती पर अवतार लिया तो पृथ्वी लोक पर चारों ओर खुशियां छा गई। लोग उनकी जय जय कार कर उठे। इस आनंद की अनुभूति हमें कुछ समय के लिए ही होती है। कथा के पांडाल में बैठकर लोग ई‌र्श्वर के साथ जुड़े और इस आनंद का एहसास करें। हम इस तरह का आनंद नित्य उठा सकते हैं। इसके लिए हमें ई‌र्श्वर से संबंध स्थापित करने होगे। जब तक हमारी भावनाएं ई‌र्श्वर के साथ नहीं जुड़ेंगी, तब तक इस आनंद की अनुभूति नहीं होगी। इस दौरान ब्रजेश्वर, अर्जुन, रजनीश, निशू, नीरु, सचिन, अभिषेक, अन्जु, अन्जना देवी, अनिता कुमारी, नीलम, रन्जु, महिन्द्रा कुमारी, सन्दीप व सुरेश देवी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *